logo

जेल में बंद आरोपी बन गया इंस्पेक्टर, जॉइनिंग के लिए मांगी जमानत, कोर्ट ने कर दी खारिज

Jailed accused becomes inspector, seeks bail for joining, court rejects it
जेल

हरियाणा के कैथल का रहने वाला एक युवक जेल में रहते हुए पोस्ट डिपार्टमेंट में इंस्पेक्टर भर्ती हो गया।  युवक को चंडीगढ़ में किसी दूसरी जगह की पेपर देते पकड़ा गया था।  सरकारी नौकरी लगने का पता चलते ही जॉइनिंग के लिए कोर्ट से जमानत मांगी।  हालांकि कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया । उसे कहा कि वह अपने खर्चे पर चाहे तो पुलिस कस्टडी में जॉइनिंग दे सकता है। 

2 महीने पहले हुआ था गिरफ्तार

16 जुलाई 2023 को चंडीगढ़  में हैवी बस ड्राइवर की पोस्ट के लिए एग्जाम था।  सेक्टर 11 के गवर्नमेंट कॉलेज में प्रवीण कुमार नाम का एक कैडेट वेरिफिकेशन के दौरान पकड़ा गया । उसके फिंगरप्रिंट्स मैच नहीं हुए।  ऐसे में पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने उसे कैडेट्स को गिरफ्तार कर लिया।  पुलिस के मुताबिक आरोपी कैथल का रहने वाला बलजिंदर सिंह था।  जो प्रवीण कुमार की जगह पेपर देने आया था।  गिरफ्तारी के बाद जरूरी कार्रवाई हुई तो उसे जेल भेज दिया गया। 

पहले दिया था एग्जाम भर्ती हो गया

कुछ दिन पहले आरोपी को पता चला कि उसकी पोस्ट डिपार्टमेंट में इंस्पेक्टर की नौकरी लग गई।  इसके लिए उसने गिरफ्तारी से पहले एग्जाम दिया।  जिसमें वह पास हो गया।  उसे पंजी में जॉइनिंग के लिए कहा गया था। 

कोर्ट में जमानत लेके  15 दिन में नहीं पहुंचा तो नौकरी खतरे में पड़ गई

बलजिंदर सिंह ने कोर्ट में याचिका  दायर की और उसमें कहा कि उसे 15 दिनों के लिए पोस्ट मास्टर जनरल गोवा रीजन पंजी में ज्वाइन करना है।  वह नहीं पहुंचा तो उसकी नौकरी खतरे में पड़ सकती है।  इसलिए कोर्ट ने उसे 20 दिनों की जमानत मांगी।  कोर्ट ने जमानत की अर्जी ना मंजूर की।  बलजिंदर की जमानत अर्जी नाम मंजूर की कोर्ट ने कहा कि वह नौकरी की जॉइनिंग के लिए पुलिस कस्टडी में जा सकता है।  लेकिन उसे प्रोसेस पूरा कर कर वापस लौटना होगा और खर्च भी देना होगा। 

Click to join whatsapp chat click here to check telegram