logo

8 जुलाई को गैर-भाजपा सांसदों को दिया जाएगा मांग पत्र: एसकेएम (गैर-राजनीतिक)

XA

8 जुलाई को गैर-भाजपा सांसदों को दिया जाएगा मांग पत्र: एसकेएम (गैर-राजनीतिक)


युवा किसान नेता नवदीप जलबेड़ा की रिहाई के लिए 17 जुलाई को अम्बाला में एसपी दफ्तर का घेराव किया जाएगा


सिरसा। सितम्बर के पहले सप्ताह में हरियाणा में किसानों-मजदूरों की राष्ट्रीय स्तर की महापंचायत होगी, जिसमें देशभर से लाखों किसान शामिल होंगे। इसी संबंध में संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) की सांझा प्रेस कॉफ्रेंस हिसार में हुई, जिसमें मुख्य तौर पर लखविंदर सिंह औलख, अभिमन्यु कोहाड़, राजिंदर सिंह चहल, दशरथ मलिक, हर्षदीप गिल, अंग्रेज सिंह कोटली, राजू सहरावत, राजेश किरमारा

, अंग्रेज खेरा, जसविंदर ढुल, बलवान लोहान, जंगी लोहान, राममेहर सरपंच, कृष्ण माजरा, जगबीर बेरवाल, ओमप्रकाश मांडी, गुरपिंदर पिंडा, छैलूराम सिंह, कृष्ण मलिक, जगबीर ढंढेरिए आदि ने भाग लिया। अभिमन्यु कोहाड़ ने बताया कि 8 जुलाई को देशभर में गैर-भाजपाई 303 सांसदों को मांगपत्र देकर किसानों-मजदूरों की मांगों पर संसद के मानसून सत्र में प्राइवेट बिल पेश करने की मांग करी जाएगी। लखविंदर सिंह औलख ने कहा कि यदि विपक्ष के नेता संसद में प्राइवेट बिल नहीं लाएंगे तो फिर यह माना जायेगा कि वे किसानों के मुद्दों पर गम्भीर नहीं हैं। औलख ने कहा कि युवा किसान नेता नवदीप जलबेड़ा को हरियाणा पुलिस ने 28 मार्च को गिरफ्तार कर के थर्ड डिग्री का टॉर्चर किया, जो किसी भी लोकतांत्रिक देश में स्वीकार्य नहीं है।

नवदीप जलबेड़ा की रिहाई के लिए 17 व 18 जुलाई को 2 दिन के लिए पंजाब.हरियाणा के किसान बड़ी संख्या में इक_े होकर अम्बाला एसपी का घेराव करेंगे। औलख ने बताया कि विधानसभा चुनाव से पहले 20 जुलाई से हरियाणा में तमाम जिलों में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा एवं जिला स्तरीय किसानों-मजदूरों के सम्मेलन आयोजित किये जायेंगे। इसके अलावा सितम्बर महीने के पहले सप्ताह में राष्ट्रीय स्तर की किसान-मजदूर महापंचायत हरियाणा में आयोजित की जाएगी, जिसमें देशभर से लाखों की संख्या में किसान पहुंचेंगे। औलख ने कहा कि अपने दक्षिण भारत के दौर में सभी राज्यों को सितंबर माह में हरियाणा में होने वाली किसान महारैली के लिए न्यूनता दिया गया है, जल्द ही सितंबर माह में हरियाणा में होने वाली किसान महारैली की तारीख व स्थान तय कर दिया जाएगा।

Click to join whatsapp chat click here to check telegram