logo

सनातन धर्म की रक्षा के लिए सभी आएं आगे: सुमनांजली जोशी

za

सनातन धर्म की रक्षा के लिए सभी आएं आगे: सुमनांजली जोशी


सिरसा। श्री मां भगवती इच्छा पूर्ण मंदिर, शमशाबाद पट्टी सिरसा में श्री राधे बिहारी प्रेम मंडल के सान्निध्य में  सुमनांजली जोशी ने श्रीदेवी भागवत कथा के चौथे दिन श्री देवी भागवत कथा के महत्व को बताया। नवरात्रि में देवी की उपासना से सांसारिक सुखों की प्राप्ति होती है। साथ ही मोक्ष की प्राप्ति होती है।

उन्होंने बताया कि श्री देवी भागवत पुराण के अनुसार ब्रह्म की तीनों शक्तियां देवी के अधीन हैं। संसार में जो शरीर प्राप्त हुआ है, जिसे हम अपना मान लेते हैं और उसी के अधीन होकर हम दुख भोगते हैं। सो परत्र दुख पावहिंए सिर धुनि धुनि पछताई, कालहि कर्महि ईश्वरहि, मिथ्या दोष लगाहिं। अत: इस भौतिक शरीर से ईश्वर की आराधना करें।

संसार की उत्पत्ति का मूल कारण अहंकार है। संसार की सभी समस्याओं का मूल कारण अहंकार है। मां आदिशक्ति ने दुर्गा के रूप में अवतार लिया था। उन्होंने कहा कि जीवन में भागवत कथा सुनने का सौभाग्य मिलना बड़ा दुर्लभ है। जब भी हमें यह सुअवसर मिले, इसका सदुपयोग करना चाहिए। मां भगवती अपने भक्तों की सदा रक्षा करती है। उन्होंने कहा कि सभी को सत्संग में जाना चाहिए। संतों का साथ करना चाहिए। सनातन धर्म की रक्षा के लिए सभी को आगे आना चाहिए। उन्होंने सतानती संस्कृति के प्रचार-प्रसार पर जोर दिया। सुंदर भजनों पर नृत्य कर भक्त खूब झूमे।

Click to join whatsapp chat click here to check telegram