logo

नवदीप जलवेड़ा की रिहाई के लिए सिरसा से 17 जुलाई को बड़ी संख्या में किसान पहुंचेंगे अंबाला: औलख

CA

नवदीप जलवेड़ा की रिहाई के लिए सिरसा से 17 जुलाई को बड़ी संख्या में किसान पहुंचेंगे अंबाला: औलख 


सिरसा। भारतीय किसान एकता बीकेई के प्रदेशाध्यक्ष लखविंदर सिंह औलख ने रविवार को गांव पंजूआना में किसानों से मीटिंग की। औलख ने किसान आंदोलन-2 के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 13 फरवरी से 4 बॉर्डरों शंभू, खनोरी, डबवाली व रतनपुरा राजस्थान पर किसान अपनी मांगों को लेकर लगातार डटे हुए हैं।

हरियाणा की भाजपा सरकार ने किसानों को अपनी राजधानी दिल्ली जाने से रोकने के लिए हर हथकंडे अपनाए, जहरीली आंसू गैस, इंजेक्टर मोर्टार, सीधी गोलियां चलाई, जिसमें युवा किसान शुभकरण सिंह शहीद हुआ। पांच किसान साथियों की आंखें चली गई,

433 किसान गंभीर रूप से जख्मी हुए। सरकार के अत्याचार यहीं पर नहीं थमे,, हरियाणा पुलिस ने मार्च में हमारे तीन किसान अनीश खटकड़, नवदीप जलवेड़ा, गुरकीरत सिंह पर झूठे मुकदमे दर्ज करके गिरफ्तार कर लिए, जिसमें से दो किसानों की रिहाई हो चुकी है, लेकिन नवदीप सिंह वाटर कैनन अभी भी अंबाला की जेल में बंद है।

हरियाणा में पुलिस ने नवदीप सिंह की गिरफ्तारी के बाद उस पर बहुत अत्याचार किया, थर्ड डिग्री टॉर्चर किया। बर्फ  पर लेटाया गया, बिजली का करंट लगाया गया, जो अत्याचार कर सकते थे पुलिस ने नवदीप जलवेड़ा पर किया। औलख ने कहा कि नवदीप जलवेड़ा किसान आंदोलन में युवाओं का नेतृत्व करता है

, इसलिए जानबूझकर हरियाणा पुलिस ने उसको टारगेट किया। अब हम सब का फर्ज बनता है कि नवदीप सिंह को रिहा करवाने के लिए दोनों मोर्चों द्वारा दिए गए एसपी कार्यालय अंबाला के घेराव में ज्यादा से ज्यादा संख्या में 17 जुलाई को अंबाला पहुंचें। औलख ने कहा कि सिरसा जिले से बड़ी संख्या में किस नवदीप जलवेड़ा की रिहाई को लेकर 17 जुलाई को अंबाला पहुंचेंगे। इस मौके पर हरचरण सिंह, सुखविंदर सिंह, बग्गा सिंह, भोला सिंह, कुलतार सिंह, राणा सिंह, रतन सिंह, त्रिलोचन सिंह, परविंदर सिंह, वरिंदर सिंह, रमनदीप, दीपू गिल, चीनू मेहता, तेजपाल मेहता मीटिंग में शामिल रहे।

Click to join whatsapp chat click here to check telegram