logo

कैथल में स्वास्थ्य सेवाओं का बुराहाल व क़ानून व्यवस्था का निकल चुका दिवाला : रणदीप सुरजेवाला

कहा : जिले का सरकारी अस्पताल अब खुद बन चुका है बीमार अस्पताल 
xaaa
बोले : 15 दिनों में शहर में हो चुकी 15 बड़ी चोरियां, क़ानून व्यवस्था का निकल चुका दिवाला, कुम्भकर्णी नींद सो रही भाजपा सरकार 

कैथल में स्वास्थ्य सेवाओं का बुराहाल व क़ानून व्यवस्था का निकल चुका दिवाला : रणदीप सुरजेवाला 

कहा : जिले का सरकारी अस्पताल अब खुद बन चुका है बीमार अस्पताल 

बोले : 15 दिनों में शहर में हो चुकी 15 बड़ी चोरियां, क़ानून व्यवस्था का निकल चुका दिवाला, कुम्भकर्णी नींद सो रही भाजपा सरकार 

कैथल, 08 जुलाई 2024


भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस महासचिव व सांसद रणदीप सिंह सुरजेवाला ने जिले के सरकारी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली व शहर में प्रतिदिन बढ़ रही चोरी व डकैती की वारदातों को लेकर भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया। सुरजेवाला ने भाजपा सरकार को निक्कमी व नाकारा सरकार का हवाला देते हुए कहा कि पिछले 10 साल में भाजपाई शासन ने कैथल को बदहाली की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। 

कैथल से एक बयान जारी करते हुए रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कैथल जिले के सरकारी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं का बुराहाल है। मरीजों को कोई सुविधाएं नहीं मिल, लोगों का जी का जंजाल बनकर बुराहाल है। क्योंकि खोखले वादों- बिना सुविधाओं से भाजपा सरकार का 10 साल का शासन चल रहा है। 

उन्होंने कहा कि हमने पूरी सुविधाओं से कैथल के सरकारी अस्पताल को संवारा भी, उसमें उचित संसाधन उयलब्ध करवाएं लेकिन भाजपा ने 10 साल में उजाड़ कर रख दिया है। भाजपा सरकार के नुमाइंदों ने 10 में सरकारी अस्पताल को स्वयं बीमार करके रख दिया है। न डॉक्टर हैं, न दवा है, मशीनें खराब पड़ी हैं, न सफाई व्यवस्था है और न उचित संसाधन। पिछले लम्बे समय से ₹5.70 करोड़ रुपए के जीवन रक्षक उपकरण खराब पड़े हैं। सिविल अस्पताल में ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर बंद पड़े हैं, ऑक्सीजन प्लांट बंद हैं, अस्पताल में नवजातों के रेडिएंट वार्मर ख़राब हैं, मृतकों के शव सुरक्षित रखने के 4 फ्रिज तक खराब पड़े हैं, लेजर पत्थरी के ऑपरेशन करने वाली मशीनें खराब पड़ी हैं,नवजातों को नियमित तापमान देने वाले कई रेडिएंट वार्मर खराब पड़े हैं, लिथोट्रिप्सी मशीन ख़राब है,

फुली ऑटोमेटिक बायोकेमिस्ट्री एनालाइजर खराब है, पोस्टमार्टम हाउस के फ्रिज रिएजेंट केमिकल की कमी है, अस्पताल में कोई मशीन खराब पड़ी है तो किसी मशीन के चलाने के लिए रिएजेंट नहीं है, मरीजों को प्राइवेट लैबों पर महंगे रेट पर टेस्ट करवाने पड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं बल्कि अस्पताल में थायराइड की दवा, हार्मोनल बीमारियों की दवा, बच्चों के आस्यन फोलिक एसिड सिरप, विटामिन-डी की टेबलेट व पाउडर पाउच, क्लोबाजाम (दिमागी बीमारियों के लिए), सिनारिजिन (चक्कर आने पर), एंटासिड सिरप सोडियम एलप्रेट, कब्ज का सिरप, गदूद की दवा, बच्चों के लिए एंटीबायोटिक सिफिक्जम नहीं है।

क़ानून व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि कैथल में चोरी और डकैती का प्रपंच आतंक फैला हुआ है। कानून व्यवस्था दिवाला निकल चुका है। पिछले 15 दिनों में कैथल शहर में 9 बड़ी चोरियों की वारदातें हो चुकी हैं। कल रात ही कैथल में शहर कि मुख्य मार्किट जनता मार्किट व नरवानिया बिल्डिंग में 6 दुकानों के शटर व ताले तोड़कर चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया। इतना ही नहीं पिछले सप्ताह भी महादेव कॉलोनी, गोविंद कॉलोनी, आरके पुरम कॉलोनी में चोरों ने बड़ी चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया था। चोर बेखौफ होकर दिन के उजाले और रात के अँधेरे में सरेआम दुकानों व शोरूम के ताले व शटर तोड़कर चोरी की वारदातो को अंजाम दे रहे हैं, जनता भय व डर के माहौल में जी रही है लेकिन पुलिस प्रशासन और भाजपा सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठकर तमाशबीन बने बैठे रहते हैं। 

सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सरकार ने अपराध के मामले बढाने में बहुत बड़ी महारत हासिल की है। पिछले 10 सालों में कैथल की जनता भय व डर के साए में जीने को मजबूर है। अपराधी बेखौफ हैं अपराध को अंजाम दे रहे हैं लेकिन सत्ता पर बैठे भाजपाई हुक्मरानों के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही।

Click to join whatsapp chat click here to check telegram