logo

बिजली विभाग की लाइन टूटने से कुसुंबी गांव में दो भैंसों की करंट से मौत

xaax
परिजनों ने लगाया बिजली विभाग के अधिकारियों पर लापरवाही का आरोप, जिला प्रशासन से उठाई मुआवजे की मांग

सिरसा। निकटवर्ती गांव कुसुंबी में गत रात्रि बिजली निगम की 11 हजार वोल्टेज लाइन की आपूर्ति के दौरान तार टूटने से दो भैंसों की करंट लगने से मौत हो गई। गनीमत रही कि उस दौरान कोई व्यक्ति इन तारों की चपेट में नहीं आया। पीडि़त परिवार ने इस घटनाक्रम के लिए बिजली विभाग के अधिकारियों की लापरवाही को जिम्मेवार ठहराते हुए जिला प्रशासन से इस मामले में उचित कार्रवाई की मांग उठाई है, वहीं मुआवजे की मांग भी की है। उधर ग्राम सरपंच वेद प्रकाश ने विभाग महकमे पर बड़ी लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा है कि इस लाइन की तारें काफी समय से ढीली थी, जिसको लेकर कई बार बिजली विभाग के अधिकारियों को अवगत करवाया गया, लेकिन किसी ने कोई सुनवाई नहीं की।


पीडि़त मांगे राम वाल्मीकि ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि हर रोज की तरह बुधवार रात्रि को घर के बाहर वाली साइड में उसने अपने पशुओं को बांधा हुआ था। घर के बिलकुल पास से गुजरती बिजली विभाग की 11 हजार वोल्टेज लाइन की तारें काफी समय से नीचे लटकी हुईं थी। रात्रि करीब 11 बजे अचानक बिजली पोल का फींगर टूटने से एक तार पोल से नीचे आ गिरी। उस दौरान बिजली आपूर्ति चल रही थी, जिस कारण उसकी दो भैंसें करंट की चपेट में आ गई। रात्रि को अचानक हुए धमाके के चलते उसकी नींद खुली तो उसने बाहर आकर देखा, तब तक दोनों भैंसों की मौत हो चुकी थी। तार टूटने की जानकारी देने के बाद विभाग ने आपूर्ति काटी। मांगे राम ने बताया कि वह निर्धन परिवार से संबंध रखता है। उसकी एक लाख रूपये की भैंस थी, जो एक माह बाद बयाने वाली थी, वहीं  वहीं करीब 40 हजार रूपये कीमत की दो साल की झोटी की करंट लगने से मौत हो गई। इस घटनाक्रम से परिवार को बड़ी क्षति हुई है। मांगे राम ने इस मामले को जिला प्रशासन से लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई करने व मृतक भैंसों का उचित मुआवजा दिलाने की मांग की है।


* पूरे गांव में बिजली तारें व पोल खस्ताहाल में, मुख्यमंत्री सैनी के सामने उठाएंगे यह मामला: सरपंच वेद प्रकाश


कुसंबी गांव में हुए इस हादसे को लेकर सरपंच वेद प्रकाश ने निगम पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए कहा कि जहां पर यह तारें टूटी हैं, वहां से बिजली लाइन बहुत की खस्ताहाल में है, इस बारे में कई बार अधिकारियों व कर्मचारियों को अवगत करवाया जा चुका है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही। सरपंच ने कहा कि पूरे गांव में बिजली विभाग की लाइन खराब हो चुकी है। जहां वर्षों पहले लगाई गई यह तारें कमजोर हो चुकी हैं, वहीं पोल भी टूटने के कंगार पर हैं। विजली विभाग को कई बार पंचायत स्तर पर इन लाइनों को बदलने की मांग की जा चुकी है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी से मिलने के लिए उनकी पूरी पंचायत पंचकूला जा रही है, जहां उनके सामने भी यह मसला उठाया जाएगा, ताकि बिजली विभाग की लापरवाही का खामियाजा लोगों को अपनी जान-माल देकर न चुकाना पड़े।

करंट की चपेट में आई भैंसें दिखाता हुआ पीडि़त मांगे राम।

Click to join whatsapp chat click here to check telegram