logo

Punganur Cow: दुनिया की सबसे छोटी गाय, रोज देती है इतना लीटर दूध, इसकी यह खास बात सुनकर उड़ जाएंगे आपके होश, यहां जानें सब- कुछ

Punganur Cow: दुनिया की सबसे छोटी गाय, रोज देती है इतना लीटर दूध, इसकी यह खास बात सुनकर उड़ जाएंगे आपके होश, यहां जानें सब- कुछ

Punganur Cow: भारत में देसी गायों की करीब 50 नस्लें हैं,  विदेशी नस्लों के आने के बाद से कुछ देसी नस्लें विलुप्ति के कगार पर हैं। वहीं उन्हीं में से एक पुंगनूर नस्ल की गाय है

जो अब कहीं नहीं देखने को मिलती है। आपको बता दें यह गाय रोजाना 3 लीटर दूध दे सकती है जो आपके घर परिवार की जरूरतों के लिहाज से काफी है।

आंध्र प्रदेश के काकीनाडा में एक वैद्य ने 14 साल की मेहनत के बाद पुंगनूर गाय की नस्ल में सुधार किया है। उन्होंने ढाई फीट की पुंगनूर गाय विकसित की है।  

इस गाय का नाम मिनिएचर पुंगनूर रखा गया है। पुंगनूर गाय की आम तौर पर ऊंचाई 3 से 5 फीट के बीच होती है जबकि मिनिएचर पुंगनूर की ऊंचाई ढाई फीट तक है।

 नस्ल सुधार के बाद तैयार किए गए इस ब्रीड को विकसित कर कृष्णम राजू एक गौशाला चलाते हैं और पुंगनूर गाय को देश के अलग-अलग इलाके के लोगों तक पहुंचा रहे हैं। 

बता दें पुंगनूर मिनिएचर गाय के रोजाना के खाने पीने पर 5 किलो तक चारे की जरूरत होती है और इससे 3 लीटर दूध रोजाना लिया जा सकता है। डॉक्टर कृष्णम राजू मिनिएचर पुंगनूर के जरिए देश के उन लोग को गाय पालना सिखा रहे हैं जो जगह या चारे की कमी की वजह से गाय नहीं पालना चाहते। 

दुनिया की सबसे छोटी गाय पुंगनूर जब पैदा होती है तो उसकी हाइट 16 से 22 इंच तक होती है। मिनिएचर पुंगनूर की ब्रीड को इस तरह डेवलप किया गया है कि उसकी ऊंचाई 7 इंच से 12 इंच होती है. पुंगनूर गाय की 112 साल पुरानी ब्रीड है जबकि मिनिएचर पुंगनूर को साल 2019 में डिवेलप किया गया है। 

असली पुंगनूर वैदिक काल में विशिष्ट और विश्वामित्र ऋषि के समय में पैदा होते थे. जलवायु परिवर्तन होने और जगह बदलने के साथ pungnur cow की ऊंचाई बढ़ती गई। 

पहले पुंगनूर की ऊंचाई ढाई से 3 फीट तक की होती थी जिसे ब्रह्मा ब्रीड कहते हैं. डॉक्टरों ने कहा कि अभी पूरे देश में गायों की केवल 32 नस्ल बच गई है जबकि प्राचीन काल में 302 नस्ल की गाय होती थी। 

डॉक्टर कृष्णम राजू ने कहा कि पुंगनूर गाय की ऊंचाई अभी तीन से 5 फुट की होती है, उन्होंने इसे घटा कर दो-ढाई फीट तक कर लिया है। 

आंध्र प्रदेश के लाइवस्टोक रिसर्च स्टेशन से पुंगनूर नस्ल के सांढ का वीर्य लेकर उन्होंने कृत्रिम गर्भाधान कराया है। 

इस से पैदा हुए छोटे से छोटे सांड का वीर्य लेकर उससे पुंगनूर गाय का कृत्रिम गर्भाधान कराकर कई सालों की कोशिश के बाद डॉ राजू को 2 फीट तक की गाय तैयार करने में सफलता मिल गई है.

17 दिसंबर 2019 को विकसित सबसे छोटी मिनिएचर पुंगनूर गाय की ऊंचाई 2.5 फीट है. डॉक्टर ने बताया है कि यह पुंगनूर गाय रोजाना 3 लीटर तक दूध दे सकती है। 

घर में अधिक से अधिक लोग पुंगनूर गाय पाल सकें, इसलिए पुंगनूर गाय की छोटी नस्ल विकसित की गई है। 

मिनिएचर पुंगनूर का रेट अभी एक से ₹5,00,000 तक है, लेकिन डॉक्टर राजू ने किसी को गाय बेचा नहीं, बल्कि वे इसे मुफ्त में दे रहे हैं। 

 दिलचस्प तथ्य है कि कई विदेशी लोग मिनिएचर पुंगनूर गाय डॉक्टर कृष्णम राजू से मांग रहे हैं, लेकिन डॉक्टर राजू ने किसी विदेशी को यह गाय अब तक नहीं दी है। 

Click to join whatsapp chat click here to check telegram